कैमुना को-ऑपरेटिव सोसाइटी धन जमा एवम् निकासी की सुविधा अपने शाखा कार्यालयों के माध्यम से ही उपलब्ध कराती है| अन्य किसी भी माध्यम से जमा किये गए धन की जिम्मेदारी सोसाइटी की नहीं होगी| सोसाइटी द्वारा ऑनलाइन धन जमा करने की कोई भी सुविधा नहीं दी गयी है|

अपने बारे में:-

कैमुना क्रेडिट को-आपरेटिव सोसाइटी एक बहुराज्जीय सहकारी समिति है। जिसका पंजीकरण कृषि सहकारिता विभाग मंत्रालय के सहकारी अधिनियम 2002 के अन्र्तगत हुआ है, इसका रजिस्ट्रेशन नंम्बर MSCS/CR/379/2010 है।

कैमुना क्रेडिट सहकारी सोसाइटी इसके संस्थापक सदस्यों द्वारा बनर्इ गयी सोसाइटी है। वर्तमान में यह उ0प्र0, म0प्र0, उत्तराखण्ड, बिहार, पंजाब, गुजरात, राजस्थान, हिमाचल प्रदेश और महाराष्ट्र में कार्य कर रही है। यह सोसाइटी समाज के सदस्यों के साथ उनकी विविध पृष्ठभूमि, समुदाय, सामाजिक सिथति और आयु के समूहों से समर्थित है, परिणाम स्वरूप यह वर्तमान में कार्य कर रहे बहुमुखी संगठनों में से एक है। सोसाइटी का लक्ष्य आसानी से प्राप्त हो सकेए इसमें समिति के प्रमुख प्रमोटर्रस की असाधारण नेतृत्व एवं कौशल क्षमता अहम भूमिका निभाती है |

सोसाइटी का मिशन आपसी सहयोग से सदस्यों का सर्वांगीण विकास करना है।

सहकारिता अधिनियम २००२ के अन्र्तगत सोसाइटी को कुछ ऐसे विशेषाधिकार प्राप्त है जिसके द्वारा वह अपने सदस्यों का वित्तीय समावेशन, विभिन्न योजनाओंके अधीन करती है। इनमें बचत खातों से लेकर दैनिक, मासिक एवं वार्षिक योजनायें समिमलित है। जिनमें आर्कषक ब्याज दरें अन्य सहकारी एवं सरकारी बैंकों से अधिक है।

जमा धन को इनके सदस्यों के आर्थिक विकास के लिये लगाया जाता है। जरूरतमंद लोगों को यह ऋण के रूप में दिया जाता है ताकि वे अपने लक्ष्य को पूरा करें एवं आर्थिक रूप से सक्षम बनें। यह ऋण सभी वर्गों के लिये उपलब्ध है। वर्तमान समय में कैमुना सहकारी समिति की 9 राज्यों में 312 शाखायें है जिनमें अधिकतम सदस्य क्रय एवं विपणन के क्षेत्र में अनुभवी एवं पारंगत है। ये सही वित्तीय योजना का चुनाव करने में लोगों की मदद करते है।

समिति का सारा कार्य पूरी तरह से कम्प्यूटरीकृत है जिससे सभी राज्यो के क्रियान्वयन में मजबूत पकड़ बन सके और वे सही तरीके से वित्तीय सेवाओं का ज्ञान प्राप्त कर सके।

हमारा मानना है :-
भिखारियों का कभी सम्मान नहीं किया जाता है, सम्मान केवल उनका होता है जो अपना सम्मान स्वयं करते है। यह भीख में प्राप्त नहीं हो सकता, इसको केवल बुद्धिमानी, निडरता एवं निर्देशित उददेश्यों के द्वारा अर्जित किया जा सकता है, क्योंकि भय के लिये संसार में कोर्इ जगह नहीं है। शकित का सम्मान शकित करती है। स्वयं को कभी हतोत्साहित नहीं करना चाहिये क्योंकि दृढ़ इच्छा शकित से सब कुछ संभव है।
सफलता का मतलब यह नहीं केवल सफल रहना है, वास्तव में सफलता के सही अर्थ के प्रयास के माध्यम से बाहर अपने लक्ष्यों को मार रहा है और अपने लक्ष्यों को प्राप्त करने अपनी इच्छा शक्ति और आत्म निर्धारण का उपयोग कर. जो अपने लक्ष्य को जल्दी प्राप्त होता है और अन्य लक्ष्यों को सेट अपने आप को पूर्ण संकल्प है और एक सफल व्यक्ति के रूप में जाना उत्साह के साथ प्राप्त करने के लिए. और हम अपने लक्ष्यों को प्राप्त करने और बार बार सफल हो गए हैं.

2010.कैमुऩा क्रडिट सहकारी सोसायटी लिमिटेडmall"> घर : हमारे बारे में : हमसे संपर्क